आज इंटरनेशनल डॉग डे के मौके पर जानिए घर में डॉग पालने के फायदे!

 हर साल 26 अगस्त को पूरी दुनिया में इंटरनेशनल डॉग डे मनाया जाता है। अगर हम बात करें इंसान के दिल के कोई जानवर सबसे ज्यादा करीब है तो वो है डॉग। इंसान और डॉग के बीच संबंध को लेकर कई तरह के शोध होते रहते है। अभी हाल ही में एक रिसर्च के अनुसार वैज्ञानिकों के एक शोध में यह पाया है कि जो लोग डॉग पालते है यानि जो कुत्ते के मालिक होते है उन्हें और लोगों के अनुसार दिल की बीमारी का खतरा बहुत कम होता है। इतना ही नहीं इसके साथ ही वैज्ञानिकों ने यह भी माना है कि जिन लोगों के पास डॉग होते है उनकी फिजिकल एक्टिविटी और लोगों के अनुसार ज्यादा होती है। तो चलिए आज हम आपको इंटरनेशनल डॉग डे के मौके पर घर पर डॉग पालने के फायदों के बारे में बताएंगे...


हृदय रोग: आपको बता दें कि जो भी लोग अपने घर पर डॉग पालते है उनको कभी भी हृदय रोग का खतरा नहीं होता है। अगर आपको हृदय रोग हो चूका है या फिर कोई हृदय रोग है उसके बाद भी आप अपनी लाइफ को एक्टिव रखने के लिए डॉग पाल सकते है। आपको बता दें कि डॉग पालने का सबसे अधिक फायदा यह है कि इससे आपकी लाइफ की एक्टिविटी बढ़ती है। जब आप अपने लाइफस्टाइल में गतिविधियों को शामिल करते है तो आपका हार्ट ओर हेल्दी रहता है। जिसके कारण मोटापा और डायबिटीज का खतरा भी खत्म हो जाता है।

डायबिटीज: वैज्ञानिकों के अनुसार अगर आपको डायबिटीज है तो आप अपने घर पर डॉग पाल सकते है और इसका लाभ उठा सकते है। शोधकर्ताओं का मानना है कि अगर आप एक डॉग के मालिक है और आपको डायबिटीज है तो आप अपने डॉग के साथ एक एक्टिव लाइफस्टाइल अपना सकते है। डॉग के साथ आपको तेज चलने और दौड़ने में मदद मिलेगी। इतना ही नहीं वैज्ञानिकों का यह भी मानना है कि कुत्ते का मालिक होना मतलब सक्रिय होना भी है।


सुरक्षात्मक: आपको बता दें कि डॉग बहुत ज्यादा सुरक्षात्मक होते है फिर चाहे वो किसी भी नस्ल के क्यों न हो। डॉग हमेशा अपने मालिक के लिए सुरक्षात्मक होता है। जब भी उनको अपने मालिक के लिए किसी प्रकार का खतरा या असुविधा का एहसास होता है तो वो तेज तेज भौंकने लगते है। ऐसा करने से वो हमेशा अपने मालिक को आनेवाले खतरे से सतर्क करते हैं।

स्वार्थी: आपने देखा होगा इंसानों के बीच दोस्ती किसी न किसी स्वार्थ को लेकर होती या फिर चाहे दोस्ती में कहीं न कहीं कोई न कोई स्वार्थ जरूर छिपा होता है, लेकिन अगर हम बात करें डॉग्स की, तो वो किसी भी मामले में स्वार्थी नहीं होते हैं। और वो हमेशा निस्वार्थ भाव से अपने मालिक से प्यार करते हैं। और उसके बदले वो अपने मालिक से बस उसी प्यार की उम्मीद करते है। इतना ही नहीं अपने पालतू डॉग के साथ रोज कुछ पल बिताने से आपका तनाव गायब हो जाता है।

Post a Comment

Previous Post Next Post